शहद खाने के आश्चर्यजनक फायदे:

by Kuldeep Singh
honey sahad images

शहद का उपयोग पूरे इतिहास में एक लोक उपचार के रूप में किया गया है और इसके विभिन्न प्रकार के स्वास्थ्य लाभ और चिकित्सीय उपयोग हैं। यह कुछ अस्पतालों में घाव के इलाज के लिए भी इस्तेमाल किया जाता है। इनमें से कई स्वास्थ्य लाभ कच्चे, या बिना स्वाद वाले, शहद के लिए विशिष्ट हैं।

किराने की दुकानों में आपको मिलने वाला अधिकांश शहद पास्चुरीकृत होता है। नेशनल हनी बोर्ड के अनुसार, शहद वसा रहित, कोलेस्ट्रॉल मुक्त, सोडियम मुक्त और सही मायनों में प्रकृति का मीठा अमृत है। शहद में उच्च स्तर के मोनोसैकराइड, फ्रुक्टोज और ग्लूकोज होते हैं और इसमें लगभग 70 से 80 प्रतिशत शर्करा होती है, जो इसकी मिठास प्रदान करती है। शहद में एंटीसेप्टिक और जीवाणुरोधी गुण भी होते हैं। आधुनिक चिकित्सा विज्ञान ने जीर्ण घाव प्रबंधन और संक्रमण से निपटने में शहद के उपयोग का पता लगाने में कामयाबी हासिल की है

पौष्टिक रूप से, 1 चम्मच शहद (21 ग्राम) में 64 कैलोरी और 17 ग्राम चीनी होती है, जिसमें फ्रुक्टोज, ग्लूकोज, माल्टोज और सुक्रोज शामिल हैं। इसमें वस्तुतः कोई फाइबर, वसा या प्रोटीन नहीं होता है।

शहद कैसे बनता है

मधुमक्खियां फूलों से रस चूसकर शहद बनाती हैं। मधुमक्खियां छत्ते में फूलों से रस चूसकर इसे इकट्ठा करती हैं। इस रस को मधुमक्खियां लगभग आधे घंटे तक चबाती हैं, जिससे कई एंजाइम उसमें मिल जाते हैं। उस एंजाइम में कई एंटी-बैक्टीरियल और एंटीबायोटिक तत्व होते हैं जिससे शहद की गुणवत्ता बढ़ जाती है।आज के समय में छत्ते से प्राप्त शहद को फिल्टर करके बेचा जाता है। मार्केट में कई कंपनियां अच्छी क्वालिटी का शहद उपलब्ध कराती हैं।

यदि आप शहद खाने में रुचि रखते हैं, तो इसे किसी विश्वसनीय स्थानीय निर्माता से खरीदें। शहद के कुछ स्वास्थ्य लाभ इस प्रकार हैं:

  • बाल
    बाल शरीर का सबसे अहम आकर्षण का केंद्र होता है. बालों से चेहरे की सुंदरता में चार चांद लगाए जा सकते हैं लेकिन अगर बाल गिरने लग जाए तो काफी समस्याओं का सामना भी करना पड़ सकता है. ऐसे में रोजाना दो चम्मच शहद खाने से बालों को गिरने से रोका जा सकता.
     
  • ऊर्जा
    दिनभर के काम के लिए शरीर को काफी ऊर्जा चाहिए होती है लेकिन भागदौड़ भरी इस जिंदगी में तनाव काफी बढ़ जाता है और ऊर्ता का स्तर गिर जाता है. ऐसे में शहद की मदद से शरीर को ऊर्जावान बनाया जा सकता है. नियमित रूप से एक बड़े चम्मच शहद का सेवन करने से शरीर को ऊर्जा मुहैया करवाई जा सकती है.
     
  • मांसपेशियां मजबूत
    शरीर की मांसपेशियां जितनी मजबूत होंगी, शरीर उतनी फर्ती से ही मुश्किल काम कर पाएगा. ऐसे में शरीर की मांसपेशियां मजबूत करने के लिए शहद का सेवन करना काफी लाभ पहुंचा सकता है.
  • त्वचा
    चमकदार त्वचा के लिए भी शहद का सेवन काफी मददगार साबित हो सकता है. त्वचा का रंग साफ करने और इसमें निखार लाने के लिए ठंडे पानी में शहद मिलाकर रोजाना पीना चाहिए. 
  1. कैंसर
    नियमित रूप से शहद के सेवन से पेट के कैंसर से बचाव किया जा सकता है. वहीं शहद में मौजूद ऑक्सीडेंट की मदद से ट्यूमर बनने से भी रोका जा सकता है.
  • ब्लड प्रेशर को कम करने में मददगार

ब्लड प्रेशर ही सबसे अधिक हार्ट से जुड़ी समस्याओं का कारण बनता है। लेकिन शहद का सेवन इस समस्या को काफी हद तक कम कर सकता है। शहद में काफी मात्रा में एंटी ऑक्सीडेंट होते हैं, जिससे हार्ट प्रॉब्लम का रिस्क काफी कम हो जाता है।

  • सर्दी-खांसी में मिलती है राहत

बदलते मौसम में सर्दी, खांसी, जुकाम होना कॉमन है। श्वासप्रणाली में संक्रमण (respiratory infections) के कारण यह समस्या होती है। शहद में काफी मात्रा में बैक्टीरियल गुण होते हैं। इसके सेवन से सर्दी-जुकाम में काफी हद तक आराम मिल सकता है या इन्फेक्शन होने की संभावना भी कम हो जाती है। साथ ही यह खराब गले को भी ठीक कर सकता है। इसे गर्म पानी में मिलाकर पीना अधिक फायदेमंद हो सकता है।

  • कटने या जलने पर

त्वचा के कटने-छिलने या जल जाने पर भी शहद का उपयोग करना बहुत लाभकारी है। शहद में मौजूद एंटीसेप्टिक गुण जले हुए हिस्से को जल्दी ठीक करते हैं और त्वचा को संक्रमण से भी बचाते हैं।

  • रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने में सहायक

शहद में ज़रुरी एंटीऑक्सीडेंट की मात्रा काफी ज्यादा होती है। इसमें मौजूद एंटीऑक्सीडेंट दिल के लिए बहुत फायदेमंद होते हैं और दिल से जुड़ी कई तरह की बीमारियों से बचाव करते हैं। इसके अलावा शहद का मुख्य काम शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाना है। इम्युनिटी पॉवर मजबूत होने से कई तरह की संक्रामक बीमारियों से बचाव होता है।

  • शहद के फायदे त्वचा के लिए  

शहद के फायदे  सिर्फ पाचन और इम्युनिटी बढ़ाने तक ही सीमित नहीं है बल्कि यह त्वचा में निखार लाने में भी मदद करती है। शहद में ऐसे गुण होते हैं जो आस पास की नमी को सोख लेती है और त्वचा की नमी को बरकरार रखने में मदद करती है। जिन लोगों की त्वचा बहुत रुखी होती है उन्हें अपनी त्वचा को नम बनाये रखने के लिए शहद का इस्तेमाल करना चाहिए। इस बात का ध्यान रखें कि त्वचा में निखार लाने के लिए इसे खाने की बजाय इसे त्वचा पर लगाया जाता है। त्वचा के लिए आप कई तरीकों से शहद का इस्तेमाल कर सकते हैं।

  • कब्ज़ से राहत

अगर आप कब्ज़ के मरीज हैं तो समझ लें कि आप कई अन्य बीमारियों को न्यौता दे रहे हैं। पेट से जुड़ी कई समस्याओं की मूल जड़ कब्ज़ ही है। शहद शरीर में फ्रक्टोज के अवशोषण को कम करती है इस वजह से आप इसका उपयोग  कब्ज़ को दूर करने में भी कर सकते हैं। कब्ज़ से आराम दिलाने के अलावा यह पेट फूलने और गैस की समस्या से भी आराम दिलाती है

  • डैंड्रफ का इलाज करता है

यूरोपियन जर्नल ऑफ मेडिकल रिसर्च में प्रकाशित 2001 के एक अध्ययन के अनुसार, शहद रूसी को लक्षित करके खोपड़ी में अस्थायी राहत ला सकता है। अध्ययन में पाया गया कि शहद को 10 प्रतिशत गर्म पानी के साथ समस्या वाले क्षेत्रों में लगाने और रिन्सिंग से तीन घंटे पहले छोड़ने से खुजली से राहत मिलती है और एक सप्ताह के भीतर कोई स्केलिंग नहीं होती है। त्वचा के घाव दो सप्ताह के भीतर ठीक हो गए और रोगियों ने बालों के झड़ने में भी सुधार दिखा।

Related Posts

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More

Privacy & Cookies Policy